Army Tradesman क्या होता है और आर्मी में ट्रेडमैन का क्या काम होता है

आज इस आर्टिकल में मैं आपको बताउगा कि Army Tradesman क्या होता है और आर्मी ट्रेडमैन का काम क्या होता है और आर्मी में ट्रेडमैन कैसे बन सकते है इसकी पूरी जानकारी के लिए बने रहिये मेरे साथ। 

आर्मी ट्रेडमैन कैसे बने ?
आर्मी ट्रेड्समैन के लिए योग्यता


Army Tradesman क्या होता है ?

आर्मी ट्रेडमैन भारतीय सेना में एक तरह का सैनिक होता है जो किसी विशेष ट्रेड में कुशल होता है ट्रेडमैन के पास किसी विशेष क्षेत्र में टेक्निकल ज्ञान और कौशल होता है जैसे कि खाना बनाने, पेंटर, इलेक्ट्रॉनिक्स, मैकेनिकल, इंजीनियरिंग, या चिकित्सा।


आर्मी में ट्रेडमैन का क्या काम होता है ?

आर्मी में ट्रेडमैन कई प्रकार के कामो को करते हैं Army Tradesman वह सैनिक होता है जो सेना की अलग-अलग यूनिट्स में उनकी आवश्यकताओं के अनुसार अलग - अलग प्रकार के कार्य करता है Army Tradesman को उनके विशेष कौशल या ट्रेड के आधार पर चुना जाता है Army Tradesman के लिए भारतीय सेना में उनके काम के अनुसार अलग - अलग पद हैं

  • बावर्ची (Chef) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए खाना बनाना होता है।
  • सफाई कर्मी (Housekeeper) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए सफाई रखना होता है।
  • मेस कीपर (Mess Keeper) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए मेस की व्यवस्था करना होता है।
  • पेंटर (Painter) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए पेंटिंग करना होता है।
  • कारीगर लकड़ी (Artisan Wood) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए लकड़ी का काम करना होता है।
  • हेयर ड्रेसर (Hair Dresser) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए बाल काटना होता है।
  • डाक (Postal) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए डाक की सेवा करना होता है।
  • वॉशर मैन (Washer Man) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए कपड़े धोना होता है।
  • कारीगर दर्जी (Artisan Tailor) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए कपड़े सिलना होता है।
  • स्टोर होल्डर (Store Holder) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए स्टोर की रखरखाव करना होता है।
  • कारीगर धातु विज्ञान (Artisan Metallurgy) - इस पद पर आने वाले ट्रेड्समैन का काम सेना के लिए धातु का काम करना होता है।
  • इलेक्ट्रीशियन - इस पद पर आर्मी ट्रेडमैन को सेना में बिजली से सम्बंधित काम करने होते है।

आर्मी ट्रेडमैन कैसे बने ?

आर्मी ट्रेडमैन बनने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं या 12वीं पास होना चाहिए इसके अलावा उम्मीदवार को संबंधित ट्रेड में एक प्रमाण पत्र या ITI डिप्लोमा होना चाहिए।


आर्मी में ट्रेडमैन बनने के लिए अप्लाई कैसे करे ?

आर्मी ट्रेडमैन के लिया  आप भारतीय सेना की ऑफिसियल वेबसाइट www.joinindianarmy.nic.in पर ऑनलाइन Apply कर सकते है भर्ती के लिए उम्मीदवार को लिखित परीक्षा, शारीरिक योग्यत परीक्षण, और मेडिकल परीक्षण में पास होना होता है।


Army Tradesman की सैलरी कितनी होती है ?

आर्मी ट्रेडमैन की सैनिक रैंक सैनिक (तकनीकी) होती है ट्रेडमैन की शुरुआती सैलरी ₹ 30,200 से ₹ 50,500 प्रति माह होती है।

Army Tradesman के लिए योग्यता और सिलेक्शन प्रोसेस ?

Army Tradesman के लिए अप्लाई करने के लिए आपको 10वीं या 12वीं पास होना चाहिए

Army Tradesman के लिए अप्लाई  करने के लिए आपकी आयु 17.5 से 23 साल के बीच होनी चाहिए।

Army Tradesman के लिए अप्लाई करने के लिए आपको अपने ट्रेड के अनुसार विशेष योग्यता या अनुभव होना चाहिए।

Army Tradesman के लिए अप्लाई करने के बाद आपको लिखित परीक्षा, शारीरिक योग्यता परीक्षा, चिकित्सा परीक्षा और इंटरव्यू में पास होना होगा।

Army Tradesman के लिए लिखित परीक्षा में आपको गणित, सामान्य ज्ञान, सामान्य विज्ञान और सामान्य अंग्रेजी के प्रश्नों का जवाब देना होगा।

Army Tradesman के लिए शारीरिक योग्यता परीक्षा में आपको 1.6 किमी की दौड़, बीम, छलांग और शारीरिक माप लेने में पास होना होगा।

Army Tradesman के लिए मेडिकल परीक्षा में आपको अपनी आँखों, कानों, दांतों, त्वचा, हड्डियों और अंगों की जांच होगी।

Army Tradesman के लिए इंटरव्यू में आपको अपने ट्रेड के बारे में, सेना के बारे में, अपने परिवार के बारे में, अपने शौक और रुचियों के बारे में, अपने लक्ष्यों के बारे में और अन्य सामान्य बातों के बारे में पूछा जाएगा।

निष्कर्ष। 

तो दोस्तों यह थी Army Tradesman Kya Hota Hai और Army ट्रेडमैन कैसे बने इसके बारे में जानकारी उम्मीद करता हूँ यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी अगर आपके मन में Army ट्रेडमैन से सम्बंधित अन्य सवाल है तो मुझे कमेंट करके जरूर बताए।

Post a Comment

0 Comments