जानिए अकाउंटेंट बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है?

अगर आप अकाउंटेंट बनना चाहते हैं तो आपको कुछ खास पढ़ाई करनी होगी इस ब्लॉग आर्टिकल में मैं आपको बताऊंगा कि अकाउंटेंट बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है।

Accountant banne ke liye kya kya aana chahiye
अकाउंटेंट कोर्स


एकाउंटेंट कैसे बने?

Accountant बनने के लिए आपको कुछ योग्यता को पूरा करना होगा जिसकी पूरी जानकारी नीचे दी गई है

10वीं कक्षा पास करे 

अकाउंटेंट बनने के लिए सबसे पहले आपको 10वीं कक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने होंगे 10वीं कक्षा में मैथ और इकोनॉमिक्स (अर्थशास्त्र) सब्जेक्ट में अचे अंक लाने होंगे आगे चलकर यह आपके लिए फायदेमंद होगा।

12वीं कक्षा इन सब्जेक्ट से पास करे

10वीं कक्षा के बाद आपको 11वीं कक्षा में कॉमर्स स्ट्रीम चुननी होगी और 12वीं कक्षा में आपको अकाउंटेंसी, बिजनेस स्टडीज, अर्थशास्त्र और गणित जैसे सब्जेक्ट्स की स्टडी करनी होगा।

ग्रेजुएट पास करे इन सब्जेक्ट के साथ

12वीं कक्षा के बाद आपको ग्रेजुएट लेवल पर कॉमर्स की डिग्री (B.Com) प्राप्त करनी होगी B.Com की डिग्री में आपको अकाउंटेंसी, फाइनेंस, टैक्सेशन, ऑडिटिंग, और अन्य संबंधित subject की स्टडी करनी होगा

बैचलर ऑफ कॉमर्स एक 3 साल का ग्रेजुएशन कोर्स है।


पोस्ट ग्रेजुएट इन सबजेक्ट से पास करे

B.Com के बाद आप पोस्ट ग्रेजुएट लेवल पर कॉमर्स की डिग्री (M.Com) प्राप्त कर सकते हैं M.Com की डिग्री आपको अकाउंटेंसी की field में विशेषज्ञता प्राप्त करने में मदद करेगी।

एकाउंटेंट बनने के लिए कोनसा एग्जाम देना करे?

सीए (चार्टर्ड अकाउंटेंट)

सीए बनने के लिए आपको ICAI (इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया) द्वारा आयोजित परीक्षाओं को पास करना होगा।

सीएस (कंपनी सेक्रेटरी)

सीएस बनने के लिए आपको ICSI (इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया) द्वारा आयोजित परीक्षाओं को पास करना होगा।

सीएमए (कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटेंट)

सीएमए बनने के लिए आपको ICMAI (इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया) द्वारा आयोजित परीक्षाओं को पास करना होगा।

अकाउंटेंट कोर्स के बाद कहा कहा पर जॉब मिल सकती है?

  • सरकारी विभागों में
  • प्राइवेट कंपनियों में
  • बैंकों में
  • फाइनेंस संस्थानों में

आप अकाउंटिंग फर्म, बैंक, बीमा कंपनी, मैन्युफैक्चरिंग कंपनी, या किसी भी अन्य प्रकार की कंपनी में काम कर सकते हैं।

Accountant की सैलरी कितनी होती है?

अकाउंटेंट का सैलेरी उनके अनुभव, योग्यता और कार्यस्थल के प्रकार के आधार पर अलग अगल होती है भारत में एक अकाउंटेंट की औसत सैलरी  ₹30000 प्रति महीन होती है

एक Accountant को महीने के 50000 से 1 लाख तक कमा सकते हैं।

अकाउंटिंग कोर्स कितने साल का होता है?

अकाउंटिंग का कोर्स कितने साल का होगा यह आपके द्वारा चुने गए कोर्स पर डिपेंड करता है।

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग (CA)

यह 6 महीने का कोर्स है जो आपको अकाउंटिंग के कुछ विशेष पहलुओं पर ध्यान केंद्रित करता है।

बैचलर ऑफ कॉमर्स (B.Com)

यह 3 साल का ग्रेजुएट लेवल का कोर्स है जो आपको अकाउंटिंग, फाइनेंस, टैक्सेशन, ऑडिटिंग, और अन्य संबंधित सब्जेक्ट की स्टडी कराता है।

कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटेंट (CMA)

यह एक 2 साल का कोर्स है जो आपको लागत लेखांकन (cost accounting) और मैनेजमेंट अकाउंटिंग  में विशेषज्ञता प्राप्त करने में मदद करता है।

कंपनी सेक्रेटरी (CS)

यह एक 3 साल का कोर्स है जो आपको कॉर्पोरेट कानून और प्रशासन में विशेषज्ञता प्राप्त करने में मदद करता है।

अकाउंटेंट का क्या काम होता है?

अकाउंटेंट का काम किसी कंपनी या व्यक्ति के financial लेनदेन का रिकॉर्ड रखना होता है वे यह सुनिश्चित करते हैं कि सभी फाइनेंशियल जानकारी सही और अपडेटेड हो।

लेनदेन दर्ज करना 

अकाउंटेंट सभी वित्तीय फाइनेंशियल को रिकॉर्ड करते हैं, जैसे कि बिक्री, खरीदारी, भुगतान और प्राप्तियां वे यह सुनिश्चित करते हैं कि सभी लेनदेन सही ढंग से वर्गीकृत और दर्ज किए गए हैं।

फाइनेंशियल रिपोर्ट तैयार करना

अकाउंटेंट कई प्रकार की फाइनेंशियल रिपोर्ट तैयार करते हैं जैसे कि आय विवरण, बैलेंस शीट और नकदी प्रवाह विवरण ये रिपोर्ट कंपनी के फाइनेंशियल प्रदर्शन और स्थिति को दर्शाती हैं।

टैक्स सलाह

अकाउंटेंट कंपनियों और व्यक्तियों को टैक्स सलाह भी प्रदान करते हैं वे यह सुनिश्चित करते हैं कि कंपनियां और व्यक्ति सभी लागू टैक्स कानूनों का फॉलो करते हैं।

12वीं के बाद अकाउंटेंट कैसे बने ?

आपको 12 वी के बाद सीए फाउंडेशन कोर्स में एडमिशन लेना होगा इसके बाद सीए फाउंडेशन कोर्स को पूरा करे और सीए इंटरमीडिएट कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करें।

सीए इंटरमीडिएट परीक्षा पास करें और प्रैक्टिकल एक्सपीरियंस के लिए आर्टिकलशिप ट्रेनिंग प्राप्त करें।

अकाउंटेंट का स्कोप क्या है?

अकाउंटेंट का स्कोप बहुत अच्छा है आजकल हर कंपनी, सरकारी एजेंसी, गैर-लाभकारी संगठन और लेखा फर्म को अकाउंटेंट की आवश्यकता होती है।

Financial Analyst

फाइनेंशियल एनालिसिस कंपनियों के फाइनेंशियल परफॉरमेंस का एनालिसिस करते हैं और निवेशकों और मैनेजमेंट को सलाह देते हैं।

Auditor 

ऑडिटर कंपनियों के फाइनेंशियल रिकॉर्ड का ऑडिट करते हैं और यह सुनिश्चित करते हैं कि सभी फाइनेंशियल जानकारी सही और उचित है।

अकाउंटेंट का स्कोप बहुत अच्छा है यदि आप गणित में अच्छे हैं और विश्लेषणात्मक (analytical) कौशल रखते हैं तो अकाउंटिंग एक अच्छा करियर आप्शन हो सकता है।

दोस्तो आपको बता दूं कि एकाउंटेंट एक अच्छी जॉब है और आप इसमें अच्छी सैलरी कमा सकते हैं।

निष्कर्ष

अकाउंटेंट बनने के लिए आपको कुछ खास पढ़ाई करनी होगी 10वीं कक्षा से लेकर ग्रेजुएट लेवल तक आपको कॉमर्स सब्जेक्ट की स्टडी करनी होगा इसके अलावा आप कुछ प्रोफेशनल योग्यताएं भी प्राप्त कर सकते हैं।

अगर आपको अकाउंटेंसी की फील्ड में करियर बनाने में इंटरेस्ट है तो आपको इस ब्लॉग आर्टिकल में दी गई जानकारी उपयोगी लगी होगी।

Post a Comment

0 Comments