पुलिस में CO कैसे बने जानिए योग्यता सैलरी काम और अप्लाई प्रोसेस

CO यानि Circle Officer पुलिस डिपार्टमेंट में एक महत्वपूर्ण पद होता है यह पुलिस उपाधीक्षक (DSP) रैंक का अधिकारी होता है और CO एक तहशील के सभी थानों का इंचार्ज होता है CO का काम कानून व्यवस्था बनाए रखना, जमीन-जायदाद से संबंधी विवादों का निपटारा करना, अपराधों की जांच करना, और पुलिस कर्मियों की देखरेख करना होता है।




Table of Contents (toc)


CO कैसे बने ?

CO ऑफिसर आप दो तरीको से बन सकते हैं एक पहले आपको पुलिस department में इंस्पेक्टर की पोस्ट पर भर्ती होना होगा इसके बाद प्रमोशन मिलने पर आप सीओ बन सकते हैं 

दूसरा तरीका है स्टेट पब्लिक सर्विस कमिशन का एग्जाम देकर सीधे सीओ बन सकते है स्टेट पब्लिक सर्विस कमिशन का एग्जाम सभी स्टेट में अलग अलग समय पर होता है अगर आप उत्तर प्रदेश से हैं तो UPPSC इसका एग्जाम conduct करती है और अगर आप उत्तराखंड से हैं तो UKPSC CO का एग्जाम Conduct करती है तो इस प्रकार अलग - अलग राज्यों में इसकी भर्ती का प्रोसेस अलग - अलग होता है। 

CO बनने के लिए योग्यता

आपको किसी भी सब्जेक्ट में ग्रेजुएट पास होना जरुरी है
आपकी उम्र 21 से 40 साल के बीच होनी चाहिए और OBC केटेगरी के कैंडिडेट को 3 साल और SC/ST केटेगरी के कैंडिडेट को उम्र सीमा में 5 साल की छूट मिलती है 

CO सिलेक्शन प्रोसेस

सीओ बनने के लिए आपको सिलेक्शन प्रोसेस में 3 चरणों से गुजरना होता है 
  1. प्रारंभिक परीक्षा
  2. मुख्य परीक्षा
  3. इंटरव्यू

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

यह पहला चरण होता है जिसमें उम्मीदवारों को बहुविकल्पीय प्रश्नों (Multiple Choice Questions) का सामना करना पड़ता है इसमें आपके 2 पेपर होते हैं आपको बता दे कि राजस्थान और बिहार में सीओ प्रारंभिक परीक्षा में 1 पेपर लिया जाता है 

प्रारंभिक परीक्षा में पहला General studies का पेपर होता है और यह 200 अंको का होता है जिसमे आपको 150 प्रश्नो का उत्तर देना होता है इस पेपर को आपको 2 घंटे में पूरा करना होता है। 

General Studies सिलेबस
  • विज्ञान
  • पर्यावरण और पारिस्थितिकी
  • सामयिकी
  • अर्थशास्त्र
  • सरकारी नीतियां और पहल
  • संस्थान
  • अंतरराष्ट्रीय संबंध
  • राजनीति
  • भूगोल
  • आधुनिक इतिहास 
  • मध्यकालीन इतिहास
  • कला और संस्कृति
  • आजादी के बाद का इतिहास आदि से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है। 

प्रारंभिक परीक्षा में दूसरा पेपर Civil Service Aptitude Test का होता है और यह भी 200 अंको का होता है जिसमे आपको 100 प्रश्नो का उत्तर देना होता है इस पेपर को भी आपको 2 घंटे में पूरा करना होता है और इन पेपर में नेगटिव मार्किंग होती है

Civil Service Aptitude Test सिलेबस
  • 10th  लेवल का गणित (जिसमे अंकगणितम, बीजगणित, रेखागणित और सांख्यिकी)
  • अंग्रेजी 
  • हिंदी 
  • सामान्य बौद्धिक योग्यता 
  • logical and analytical ability
  • Decision Making & problem solving
  • comprehensive

मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

जो उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में पास होते हैं वे मुख्य परीक्षा के लिए योग्य होते हैं इसमें Short और Long लिखित परीक्षा होती है इसमें आठ पेपर होते हैं 

General Studies
  • भारतीय इतिहास (प्राचीन, मध्यकालीन और आधुनिक)
  • भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन और भारतीय संस्कृति 
  • विश्व भूगोल, भारतीय भूगोल और प्राकृतिक संसाधन 
  • राष्टीय और अंतर्राष्टीय स्तर पर घटित वर्तमान घटनाये 
  • भारतीय कर्षि, व्यापार और वाणिज्य 
  • भारतीय राजनीती 
  • भारतीय अर्थवयवस्था 
  • सामान्य विज्ञानं 
  • जीवन शैली 
  • सामाजिक रीती रिवाज 
Essay
General Studies1 (अंक 200)
General Studies2  (अंक 200)
General Studies3  (अंक 200)
General Studies4  (अंक 200)
और दो ऑप्शनल पेपर 1 और पेपर 2 होते हैं यह भी अंक 200 - 200 अंको के होते हैं और इसमें 29 सब्जेक्ट दिए जाते हैं जिसमें से आपको कोई 1 सब्जेक्ट सेलेक्ट करके दोनों पेपर देने होते हैं 

29 Subject List
  1. कृषि 
  2. प्राणी विज्ञानं 
  3. रसायन विज्ञानं 
  4. भौतिक विज्ञानं 
  5. गणित 
  6. भूगोल 
  7. अर्थशास्त्र 
  8. समाजशास्त्र 
  9. दर्शनशास्त्र 
  10. भू विज्ञानं 
  11. मनोविज्ञान 
  12. वनस्पति विज्ञानं 
  13. विधि 
  14. पशुपालन एव पशु चिकत्सा विज्ञानं 
  15. सांख्यिकी 
  16. प्रबन्ध 
  17. राजनीती विज्ञानं एव अंतराष्टीय सम्बन्ध 
  18. इतिहास 
  19. नृ विज्ञानं 
  20. सिविल अभियान्त्रिक 
  21. यान्त्रिक अभियान्त्रिक 
  22. विधुत अभियांत्रिक 
  23. अंग्रेजी साहित्य 
  24. उर्दू साहित्य 
  25. हिंदी साहित्य 
  26. संस्कृत साहित्य 
  27. वाणिज्य एव लेखांकन 
  28. लोक प्रशासन 
  29. चिकत्सा विज्ञानं 
जनरल हिंदी में 150 अंको के प्रश्न पूछे जाते हैं यह 3 घंटे का पेपर होता है। 
Essay - इसमें 3 भाग होते है और हर भाग में 3 टॉपिक होते हैं जिनमें से 1 - 1 टॉपिक पर आपको 700 - 700 words का essay लिखना होता है और हर भाग 50 - 50 अंको का होता है इसे पूरा करने के लिए आपको 3 घंटे का समय दिया जाता है 

इसमें साहित्य और संस्कृति, सामाजिक क्षेत्र, राजनैतिक क्षेत्र, विज्ञानं पर्यावरण टेक्नोलॉजी, कृषि उद्योग और व्यापर, आर्थिक क्षेत्र, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय घटनाक्रम, प्रर्कीत आपदाए, भूंकप, बाढ़, सूखा, राष्ट्रीय विकास योजनाएँ और परियोजनाएँ आपको इन सम्बंधित टॉपिक पर essay लिखना होता है 

साक्षात्कार/सामान्य ज्ञान (Interview/General Awareness)

प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा पास करने वाले कैंडिडेट्स की अंतिम चरण में इंटरव्यू और सामान्य ज्ञान की परीक्षा होती है।

प्रशिक्षण (Training)

चयनित उम्मीदवारों को नियुक्ति से पहले स्पेशल ट्रेनिंग से गुजरना होता है ट्रेनिंग कम्पलीट होने के बाद आपको CO की पोस्ट पर नियुक्त कर दिया जाता हैं।

CO की सैलरी कितनी होती हैं ?

CO की सैलरी उनके अनुभव और रैंक के आधार पर होती है 7वें वेतन आयोग के अनुसार, CO की सैलरी ₹56,100 से  ₹1,77,500 प्रति माह होती है।

CO का क्या काम होता है ?

  • अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखना
  • अपराधों की जांच करना
  • पुलिस कर्मियों की देखरेख करना
  • थाने के कामकाज का संचालन करना
  • वरिष्ठ अधिकारियों को रिपोर्ट करना

CO बनने के लिए अप्लाई कैसे करे ?

आप दो तरीको से सीओ बन सकते हैं पुलिस इंस्पेक्टर से प्रमोशन होकर और राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षा में सफल होकर सीधे सीओ बन सकते हो लोक सेवा आयोग समय-समय पर राज्य सिविल सेवा परीक्षा के लिए नोटिफिकेशन निकालता है आपको उस समय अप्लाई करना होता है जब PCS एग्जाम के लिए फॉर्म निकलता है। आप लोक सेवा आयोग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं।

निष्कर्ष। 

इस आर्टिकल में मैंने आपको CO कैसे बने, योग्यता, सिलेक्शन प्रोसेस और CO की Salary के बारे में जानकारी दी उम्मीद करता हूँ यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी अगर आपको CO से सम्बंधित अन्य जानकारी चाहिए तो आप मुझे निचे Comment करके बता सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.