Medical Scientist कैसे बने जानिए सैलरी योग्यता और काम

अगर आप मानव स्वास्थ्य और रोगों के बारे में जानने में इंट्रेस्ट रखते हैं और आप वैज्ञानिक रिसर्च के माध्यम से लोगों की जिंदगी बेहतर बनाना चाहते हैं तो मेडिकल साइंटिस्ट बनना आपके लिए एक शानदार करियर ऑप्शन हो सकता है।

आइए जानते हैं Medical Scientist कैसे बने 

मेडिकल साइंटिस्ट कौन होते हैं?
Medical Scientist कैसे बने 


मेडिकल साइंटिस्ट कौन होते हैं?

मेडिकल साइंटिस्ट वे लोग होते हैं जो रोगों के कारणों, निदान और उपचार के बारे में वैज्ञानिक रिसर्च करते हैं वे अलग अलग प्रकार के प्रयोगों और अध्ययनों का उपयोग करके मानव शरीर और रोगों के बारे में जानकारी इकट्ठा करते हैं इस जानकारी का उपयोग नई दवाओं, मेडिकल उपकरणों और उपचारों को विकसित करने के लिए किया जाता है।

मेडिकल साइंटिस्ट बनने के लिए क्या योग्यताएं होनी चाहिए?

मेडिकल साइंटिस्ट बनने के लिए आपको विज्ञान में मजबूत नींव की आवश्यकता होती है आपको कम से कम 12वीं कक्षा में विज्ञान विषयों (फिजिक्स, कैमिस्ट्री और बायलॉजी) के साथ पास होना चाहिए इसके बाद आप नीचे दिए गए सब्जेक्ट में से किसी भी सबजेक्ट में ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री प्राप्त कर सकते हैं

  • जीव विज्ञान
  • रसायन विज्ञान
  • भौतिकी
  • जैव रसायन
  • सूक्ष्म जीव विज्ञान
  • आणविक जीव विज्ञान
  • आनुवंशिकी
  • फिजियोलॉजी
  • फार्माकोलॉजी
ग्रेजुएट डिग्री प्राप्त करने के बाद आप पीएचडी या पोस्ट-डॉक्टोरल रिसर्च भी कर सकते हैं।

मेडिकल साइंटिस्ट के काम क्या होते हैं?

  1. रोगों के कारणों और उपचारों के बारे में वैज्ञानिक रिसर्च करना
  2. नई दवाओं, मेडिकल उपकरणों और उपचारों को विकसित करना
  3. laboratory tests और studies का संचालन करना
  4. डेटा का एनालिसिस और एक्सप्लेन करना
  5. वैज्ञानिक पत्रों और रिपोर्टों को लिखना
  6. अन्य वैज्ञानिकों और डाक्टरों के साथ सहयोग करना

मेडिकल साइंटिस्ट की सैलरी कितनी होती है?

मेडिकल साइंटिस्ट की सैलरी उनके अनुभव, योग्यता और काम करने के स्थान के आधार पर अलग अलग होती है भारत में एक मेडिकल साइंटिस्ट की औसत सैलरी ₹4.5 लाख से ₹10 लाख तक हो सकती है।

मेडिकल scientist बनने के लिए क्या करें?

  • 12वीं कक्षा में विज्ञान विषयों (भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान) के साथ कम से कम 60% अंक प्राप्त करें।
  • बीएससी (बायोलॉजी, बायोकैमिस्ट्री, माइक्रोबायोलॉजी, या संबंधित विषय) में कम से कम 50% अंक प्राप्त करें।
  • एमएससी (मेडिकल साइंस) या एम.फिल (मेडिकल साइंस) में प्रवेश लें।
  • रिसर्च परियोजनाओं में भाग लें और अनुभव प्राप्त करें।
  • नौकरी के लिए अप्लाई करें।

मेडिकल साइंटिस्ट बनने के लिए कोनसा कोर्स करे?

मेडिकल साइंटिस्ट बनने के लिए आपको विज्ञान विषयों में 12वीं कक्षा पास होना चाहिए इसके बाद, आप नीचे दिए गए  कोर्स में से किसी भी कोर्स को कर सकते हैं

1. B.Sc

(बायोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, माइक्रोबायोलॉजी, या संबंधित सब्जेक्ट) यह मेडिकल साइंटिस्ट बनने के लिए सबसे बेसिक कोर्स है इस कोर्स में आप जीव विज्ञान के अलग अलग पहलुओं के बारे में स्टडी करेंगे, जैसे कि कोशिका विज्ञान, आनुवंशिकी, विकास, और शरीर रचना विज्ञान।

2. M.Sc. (मेडिकल साइंस)

यह B.Sc. के बाद किया जाने वाला एक एडवांस कोर्स है इस कोर्स में, आप मेडिकल साइंस के अलग अलग क्षेत्रों में विशेषज्ञता प्राप्त कर सकते हैं, जैसे कि रोगाणु विज्ञान, पैथोलॉजी, फार्माकोलॉजी, और इम्यूनोलॉजी।

Ph.D. (मेडिकल साइंस)

यह M.Sc. के बाद किया जाने वाला एक research कोर्स है इस कोर्स में, आप किसी विशिष्ट मेडिकल समस्या पर research करेंगे और अपनी डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त करेंगे।

मेडिकल साइंटिस्ट बनने के लिए कुछ अन्य उपयोगी कोर्स:

  • B.Tech. (बायोटेक्नोलॉजी)
  • M.Tech. (बायोटेक्नोलॉजी)
  • B.Sc. (नर्सिंग)
  • M.Sc. (नर्सिंग)
यहां कुछ वेबसाइटें हैं जो आपको मेडिकल साइंटिस्ट बनने के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने में हेल्प कर सकती हैं

निष्कर्ष

दोस्तो इस आर्टिकल के माध्यम से मैंने आपको Medical Scientist कैसे बने इसके बारे में जानकारी देने की कोशिश की है मेडिकल साइंटिस्ट बनना एक चुनौतीपूर्ण लेकिन पुरस्कृत करियर है अगर आप विज्ञान में इंटरेस्ट रखते हैं और मानव स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में योगदान करना चाहते हैं तो यह करियर आपके लिए सही हो सकता है।

Post a Comment

0 Comments