VDO कैसे बने जानिए: योग्यता सैलरी काम और अप्लाई प्रोसेस

अगर आप सरकारी नौकरी की तलाश में हैं, तो आपको सिर्फ IAS, IPS, SP जैसे high level के पदों पर ही ध्यान नहीं देना चाहिए क्योंकि इन पदों के साथ ही नहीं, बल्कि कुछ अन्य पदों पर भी आपको सरकार की ओर से अच्छी सैलरी के साथ-साथ मान-सम्मान मिलता है।

अगर आप अपने गांव को बेहतर बनाने में सहायता करना चाहते हैं तो आप VDO यानी ग्राम विकास अधिकारी का पद संभाल सकते हैं लेकिन VDO कौन होता है और VDO कैसे बनते हैं? इसके बारे में आपको पूरी जानकारी होनी चाहिए इस आर्टिकल VDO के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

Table of Contents (toc)


VDO कौन होता है ?

vdo full form


VDO जिसका मतलब है ग्राम विकास अधिकारी VDO का फुल फॉर्म Village Development Officer होता है VDO ग्राम पंचायत की एक महत्वपूर्ण पोस्ट होती है VDO ग्राम पंचायत के विकास और प्रशासन के लिए जिम्मेदार होता है अगर आप ग्रामीण क्षेत्रों में विकास कार्य करने और लोगों की सहायता करने में रुचि रखते हैं तो VDO बनना आपके लिए एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है।

VDO बनने के लिए योग्यता

किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 50% अंक के साथ 12वीं कक्षा पास।
कंप्यूटर का ज्ञान (CCC सर्टिफिकेट) NIELIT द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थान से CCC का सर्टिफिकेट होना जरुरी है।
आपकी Minimum उम्र 21 साल और अधिकतम उम्र 40 साल (अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए उम्र सीमा में छूट)।

VDO बनने के लिए सिलेक्शन प्रोसेस

प्राथमिक लिखित परीक्षा

सबसे पहले आपको एक प्राथमिक (Primary) लिखित परीक्षा देनी होगी इस परीक्षा में ज्ञान, सामान्य जागरूकता, गणित, हिंदी विषयों से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाएंगे यह लिखित परीक्षा 80 अंको की होती है।

फिजिकल टेस्ट

इसके बाद आपको फिजिकल टेस्ट में भाग लेना होगा इसमें आपकी शारीरिक क्षमता की जांच की जाती है, जैसे कि दौड़, छलांग, पुशअप्स, सिटअप्स, आदि।

VDO - Gram Vikas Adhikari के लिए फिजिकल टेस्ट में क्या होता है ?

ग्राम विकास अधिकारी (VDO) के लिए फिजिकल टेस्ट में अभ्यर्थी को दौड़ना, लम्बाई-चौड़ाई, ऊंचाई, स्थिरता, स्पीड की जांच की जाती है

VDO - Gram Vikas Adhikari के लिए फिजिकल टेस्ट में कुछ महत्वपूर्ण बातें होती हैं जिसकी नीचे दिए गए 8 points में इसकी चर्चा की गई है

 1. दौड़ - फिजिकल टेस्ट में दौड़ एक important पार्ट होती है इसमें आपको एक निर्धारित दूरी को समय में पूरा करना होगा।

2. लंबाई की जांच - इसमें आपकी लंबाई की जांच की जाएगी।

3. वजन की जांच - आपका वजन भी मापा जाएगा आपको निर्धारित वजन के अनुसार होना चाहिए।

4. छलांग - फिजिकल टेस्ट में आपको छलांग लगानी होगी आपको निर्धारित दूरी तक पहुंचना होगा।

5. पुशअप्स - आपकी पुशअप्स करने की क्षमता की जांच की जाएगी आपको निर्धारित संख्या में पुशअप्स करने होंगे।

सिटअप्स - फिजिकल टेस्ट में आपके सिटअप्स करने की क्षमता की जांच की जाएगी आपको निर्धारित संख्या में सिटअप्स करने होंगे।

आंखों की जांच - आपकी आंखों की जांच भी होगी।

इंटरव्यू

अगर आप फिजिकल टेस्ट को पार करते हैं तो आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा इंटरव्यू में आपके व्यक्तित्व, ज्ञान, कौशल, और अन्य पहलुओं की जांच की जाती है।

अंतिम चयन

सभी स्टेप्स को पूरा करने के बाद एक आखरी सिलेक्शन लिस्ट तैयार की जाती है इसमें आपके performance, अंक, और अन्य मापदंडों के आधार पर आपका सिलेक्शन किया जाता है।

इस प्रोसेस के आखरी में सेलेक्ट किए गए उम्मीदवारों को ग्राम विकास अधिकारी (VDO) की पोस्ट के लिए नियुक्त किया जाता है।

VDO बनने के लिए अप्लाई प्रोसेस

सबसे पहले नोटिफिकेशन की जांच करें

ग्राम विकास अधिकारी VDO की भर्ती हर साल राज्य कर्मचारी चयन आयोग द्वारा आयोजित करवाई जाती है सबसे पहले आपको विभाग की वेबसाइट पर VDO Recruitment नोटिफिकेशन की जांच करनी चाहिए इसमें विभाग द्वारा जारी की गई detailed जानकारी शामिल होगी, जैसे कि पोस्ट का नाम, योग्यता, आवश्यक दस्तावेज़, आवेदन की आखरी तारीख आदि।

VDO Recruitment की जानकारी के लिए यहाँ कुछ वेबसाइट दी गई है 

इसके बाद आवेदन पत्र भरें

नोटिफिकेशन के अनुसार, आपको आवेदन पत्र भरना होगा इसमें आपकी पर्सनल जानकारी, शैक्षिक योग्यता, अनुभव, आदि जानकारी शामिल होगी ध्यान दें कि आप सभी आवश्यक दस्तावेज़ और सूचनाएं सही तरीके से भरे।

इसके बाद दस्तावेज़ जमा करें

आवेदन पत्र के साथ आपको आवश्यक दस्तावेज़ जमा करने की आवश्यकता होगी इसमें शैक्षिक प्रमाणपत्र, जन्मतिथि प्रमाणपत्र, अनुभव प्रमाणपत्र, आदि शामिल हो सकते हैं सुनिश्चित करें कि आप सभी दस्तावेज़ों की Copy रखें।

अब आवेदन जमा करें

आवेदन पत्र और दस्तावेज़ों की Copy को संबंधित विभाग में जमा करें अगर आवेदन ऑनलाइन है, तो आपको वेबसाइट पर अप्लाई करना होगा अगर आवेदन ऑफ़लाइन है, तो आपको दिए गए पते पर जमा करना होगा।

इस प्रोसेस के बाद आपका आवेदन संबंधित विभाग द्वारा Review किया जाएगा अगर आपका आवेदन चयनित होता है, तो आपको आगे के चरणों के लिए बुलाया जाएगा।

VDO की ट्रेनिंग कितने समय के लिए होती है?

जो उम्मीदवार ऊपर बताए VDO Selection Process के तीनों चरण क्लीयर कर लेते हैं उनको लगभग 6 महीने तक ट्रेनिंग दी जाती है इसके बाद उनके नीचे 2 से 3 गांव दिए जाते हैं कुछ समय बाद गांवों की संख्या बढ़ा दी जाती है।

इस तरह उम्मीदवारों को ट्रेनिंग के दौरान अलग - अलग विषयों पर ट्रेनिंग दी जाती है यह उन्हें गांवों के विकास, सामाजिक कार्य, औद्योगिक विकास, और सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान करता है।

इसके बाद उनके अंडर में गांव के विकास के लिए जिम्मेदारी सौंपी जाती है गांवों की संख्या बढ़ाने से, उन्हें अधिक गांवों के विकास के लिए देखभाल करनी पड़ती है।

यह ट्रेनिंग की अवधि और गांवों की संख्या संगठन की नीतियों और आवश्यकताओं पर depend करेगी।

आपको अपने संगठन के आधिकारिक स्रोतों से या संगठन के प्रतिनिधि से संपर्क करके विस्तृत जानकारी प्राप्त करनी चाहिए।

VDO की सैलरी कितनी होती है ?

ग्राम विकास अधिकारी (VDO) की सैलरी 7वें वेतनमान के हिसाब से सैलरी दी जाती है इस हिसाब से वीडिओ को हर महीने करीब 69100 रुपये सैलरी मिलती है इसके अलावा, उन्हें अन्य भत्ते भी मिलते हैं।

VDO का काम क्या होता हैं ?

विलेज डेवलपमेंट ऑफिसर VDO ग्राम पंचायत में पंचायत सचिव का पद होता है जिसे हम आम बोलचाल की भाषा में प्रधान सचिव भी कहते हैं VDO गांव के development में important भूमिका निभाता है।

VDO और सरपंच में क्या अंतर होता है ?

ग्राम विकास अधिकारी VDO और सरपंच दोनों ही ग्रामीण क्षेत्रों में काम करते हैं, लेकिन उनमें कुछ अंतर होते हैं  आइये जानते है इन आठ पॉइंट्स के माध्यम से:

1. पदों का अंतर - सरपंच ग्राम पंचायत का मुखिया होता है, जबकि VDO एक सरकारी पद होता है।

2. कार्यक्षेत्र - सरपंच का कार्यक्षेत्र एक गांव होता है, जबकि VDO का कार्यक्षेत्र कुल ग्रामीण क्षेत्र होता है एक VDO के अंडर 4 से 5 गांव भी हो सकते है।

3. समय सीमा - सरपंच का पद 5 साल के लिए होता है, जबकि VDO का पद स्थायी होता है।

4. प्रॉपर्टी मैनेजमेंट - सरपंच प्रॉपर्टी मैनेजमेंट के लिए जिम्मेदार होता है, जबकि VDO प्रॉपर्टी मैनेजमेंट में सहायता करता है।

5. समुदाय सेवा - सरपंच समुदाय सेवा में सहायता करता है, जबकि VDO समुदाय सेवा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

6. समस्या मैनेजमेंट - सरपंच समस्या मैनेजमेंट में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, जबकि VDO समस्याओं के समाधान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

7. सलाहकार - VDO को सलाहकार के रूप में 10 से 15 पंचायतों के प्रमुखों की महत्वपूर्ण सलाह मिलती है, जो सरपंच के पास नहीं होती है।

VDO Syllabus in Hindi

VDO ग्राम विकास अधिकारी की परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए सिलेबस बहुत महत्वपूर्ण होता है इस सिलेबस के माध्यम से छात्रों को अलग - अलग विषयों पर ज्ञान प्राप्त करने का अवसर मिलता है यहां हम वीडीओ सिलेबस के main सब्जेक्ट्स के बारे में बात करेंगे:

सामान्य ज्ञान

इस सब्जेक्ट में छात्रों को सामान्य ज्ञान के महत्वपूर्ण तत्वों के बारे में जानकारी प्राप्त होती है यह सब्जेक्ट अलग - अलग क्षेत्रों जैसे भूगोल, इतिहास, राजनीति, विज्ञान आदि पर आधारित होता है।

सामाजिक और आर्थिक विज्ञान

इस विषय में छात्रों को सामाजिक और आर्थिक मुद्दों, ग्रामीण विकास, सामाजिक कार्य, आर्थिक योजनाएं आदि के बारे में जानकारी प्राप्त होती है।

गणित

इस विषय में छात्रों को गणितीय अभियांत्रिकी, गणितीय तालिका, संख्या पद्धति, गणितीय समस्याएं आदि के बारे में ज्ञान प्राप्त होता है।

हिंदी भाषा

इस विषय में छात्रों को हिंदी भाषा के व्याकरण, प्रतियोगितात्मक हिंदी, अनुवाद, निबंध आदि के बारे में जानकारी प्राप्त होती है।

यहां दिए गए विषयों के अलावा भी अन्य विषय शामिल हो सकते हैं जैसे कि कंप्यूटर ज्ञान, विज्ञान और टेक्नोलॉजी, ग्रामीण विकास आदि।



UPSSSC VDO Syllabus 2023

कुल 150 प्रश्न, 300 अंक

हिन्दी ज्ञान और लेखन (50 प्रश्न) - 100 अंक

इस खंड में उम्मीदवारों से हिंदी भाषा के ज्ञान, समझ और लेखन कौशल से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे यह खंड उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाई स्कूल परीक्षा या इसके समान लेवल पर होगा।

समास, पर्यायवाची, विलोम, तत्सम एवं तद्भव, संधियां, वाक्यांशों के लिए एक शब्द, लोकोक्तियां एवं मुहावरे, वाक्य संशोधन, लिंग, वचन, कारक, काल, वर्तनी, त्रुटि से सम्बन्धित, अनेकार्थी शब्द, अपठित गद्यांश पर आधारित प्रश्न।

सामान्य बुद्धि परीक्षण (50 प्रश्न) - 100 अंक

Number, Ranking & Time Sequence, Deriving Conclusions from Passages, Logical Sequence of Words, Alphabet Test Series, Arithmetical Reasoning, Situation Reaction Test, Coding- Decoding, Direction Sense Test, Analogy, Data Sufficiency, Clocks & Calendars, Statement - Conclusions, Logical Venn Diagrams, Statement - Arguments, Inserting The Missing Character, Puzzles, and Alpha-Numeric Sequence Puzzle.

सामान्य ज्ञान (50 प्रश्न) - 100 अंक

इस खंड में उम्मीदवारों से सामान्य विज्ञान, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्वपूर्ण घटनाएं, भारत का इतिहास, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भारतीय राजनीति और अर्थव्यवस्था, विश्व भूगोल और जनसंख्या से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे।

VDO कैसे बने वीडियो 👇



निष्कर्ष।

इस आर्टिकल में हमने आपको VDO कैसे बने के बारे में पूरी जानकारी दी हमने VDO बनने के लिए योग्यता, VDO के काम, VDO के लिए अप्लाई कैसे करे के बारे में बताया यह आर्टिकल आपको VDO बनने के बारे में जानकारी प्रदान करता है यह जानकारी केवल सामान्य ज्ञान के उद्देश्य से प्रदान की गई है अगर आपके कोई प्रश्न हैं, तो कृपया कमेंट में पूछें।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.